Important Notice: The final results of YUVA Sangam competition have been declared. Click here to check the results. Congratulations to all winners.

Competition

प्रस्तावना

सुशासन ने लोगों को विकास की प्रक्रिया के केंद्र में ला दिया है। भारत दुनिया का सबसे युवा राष्ट्र है। भारत के युवा, जो कुल जनसंख्या का 35% हिस्सा हैं, समाज का सबसे जीवंत और गतिशील हिस्‍सा हैं और लोकतंत्र व सुशासन में उनकी भागीदारी को कम करके नहीं आंका जा सकता है।

युवाओं के पास उर्वर और उत्साही मन होता है जिसके जरिए उनके अंदर ताजा और अभिनव विचार आते हैं। यही नहीं, उनके पास आमूल-चूल परिवर्तन लाने की शक्ति भी है। आधुनिक टेक्नॉलजी के आगमन के साथ ही युवाओं से जुड़ने के माध्यमों में वृद्धि हुई है। हालांकि, आज जिस बात की कमी है, वह है उनके लिए एक समर्पित प्लेटफार्म, जिसके माध्‍यम से वे प्रदेश के नेतृत्व के साथ अपने विचारों को नियमित रूप से साझा कर सकें।

युवा संगम का उद्देश्‍य प्रदेश के युवाओं को उत्तर प्रदेश सरकार के साथ सार्थक बातचीत के लिए एक साझा मंच प्रदान कर उन्हें प्रदेश के समक्ष मौजूद 11 सबसे महत्‍वपूर्ण सामाजिक विषयों के अभिनव समाधान को प्रस्तुत करने के लिए प्रोत्साहित करना है। यह समाधान उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा लागू किए जाने योग्य होने चाहिए।

प्रतिभागियों को 5-5 की टीम में भाग लेना होगा। प्रत्येक टीम का एक टीम लीडर होना चाहिए जो संपर्क का एकमात्र बिंदु होगा। केवल टीम लीडर को प्रतियोगिता के लिए रजिस्टर करना है।


प्रतियोगिता 3 चरणों में आयोजित की जा रही है



ऑनलाइन प्रतियोगिता

प्रतिभागी टीम एक ऑनलाइन प्रेजेंटेशन के रूप में किसी एक विषय पर अपना समाधान प्रस्तुत करेगी। प्रेजेंटेशन ऑनलाइन जमा करने की अंतिम तिथि 12 जनवरी, 2018 है। यह प्रतियोगिता उत्तर प्रदेश के उन सभी निवासियों (उम्र 15 से 35 वर्ष) और उत्तर प्रदेश में स्थित कॉलेज के छात्रों के लिए खुली है जिनकी उम्र 15 से 35 वर्ष के बीच है।

क्षेत्रीय सम्मेलन

प्रतियोगिता हेतु उत्तर प्रदेश को 6 क्षेत्रों में विभाजित किया गया है। प्रत्येक क्षेत्र में से शीर्ष 10 टीमों (प्रत्येक विषय में से एक) का चयन किया जाएगा। चयन प्रक्रिया नॉलेज पार्टनर के सहयोग से पूरी की जाएगी। ऑनलाइन प्रतियोगिता में प्रत्येक क्षेत्र से 10 शीर्ष चयनित टीम 6 क्षेत्रीय सम्मेलनों में अपने समाधान राज्‍य के नेतृत्व वर्ग, वरिष्ठ अधिकारी और विषय से संबंधित विशेषज्ञ के समक्ष प्रस्तुत करेंगे। क्षेत्रीय सम्‍मेलन नोएडा, आगरा, कानपुर, लखनऊ, वाराणसी और गोरखपुर में आयोजित किए जाएंगे।

समापन महासम्मेलन

शीर्ष 10 टीमों (प्रत्येक विषय में से एक) का चयन क्षेत्रीय सम्मेलनों से किया जाएगा। वे प्रतियोगिता के फाइनल में 24 जनवरी, 2018 को ‘यूपी दिवस’ के अवसर पर लखनऊ में आयोजित होने वाले समापन महासम्‍मेलन में प्रदेश लीडरशिप के समक्ष अपने समाधान प्रस्‍तुत करेंगे। प्रतियोगिता के विजेताओं को सम्मानित किया जाएगा।

पुरस्कार

विजेता टीम प्रति विषय

INR 50,000

उप-विजेता टीम प्रति विषय

INR 25,000

तृतीया टीम प्रति विषय

INR 15,000